GST Rate in Hindi, जीएसटी दर (सभी आइटम) 2017, GST Rates in India in Hindi

0

GST Rate in Hindi, जीएसटी दर (सभी आइटम) 2017, GST Rates in India in Hindi

GST Rate in Hindi 2017, जी.एस.टी. एवं कर की दर, GST Rates in India in Hindi. Check GST Rates India from Below. GST Rate on Gold, New GST Rates in India in Hindi, GST & Petroleum Products, GST and Consumers. Recently Govt Finalised GST Rates in India. Hi Friends In this article we provide complete analysis of GST Rate in Hindi. Check GST Standard GST Rate, Highest Rate of GST, Lowest Rate of GST, Check GST Rates Slab. On 3rd Nov 2016 Govt Finalised GST Rates in India and Here we provide complete information for GST Rate in Hindi, We already provided Complete information regarding”GST Rate in India, GST Rates in India, Worldwide GST Rates 2017 in English” Now scroll down below n check more details for “GST Rate in Hindi, जी.एस.टी. एवं कर की दर, GST Rates in India in Hindi”.

GST Rate in Hindi, जी.एस.टी. एवं कर की दर, GST Rates in India in Hindi

GST Council Meeting Updates in Hindi Held on 30-06-2017

In GST Council meeting, the GST that was applied on the fertilizer was reduced from 12% to 5%. (जीएसटी काउंसिल की मीटिंग में फर्टिलाइजर पर लगने वाले जीएसटी को 12% से घटाकर 5% किया गया।)

देश में हर साल करीब 22.4 करोड़ टन खाद्यान्‍न का प्रोडक्शन होता है। खाद्यान्‍न और अन्‍य फसलें उगाने के लिए देश में हर साल किसान करीब 550 लाख टन फर्टिलाइजर्स का इस्‍तेमाल करते हैं। अभी तक फर्टिलाइजर्स 0 से 8% के टैक्‍स स्‍लैब में थे, लेकिन जीएसटी के बाद ये 12% के स्‍लैब में रखे गए थे। अगर 12% टैक्स रहता तो एक यूरिया बैग (50 kg) की कीमतों में 35 रुपए तक की बढ़ोतरी होती। फिलहाल जीएसटी काउंसिल ने किसानों को बड़ी राहत दी है।

Section 10 of GST

ट्रैक्टर के कल-पुर्जों पर अब 18% टैक्स

  • जीएसटी काउंसिल ने ट्रैक्टर के कल-पुर्जों पर भी टैक्स 28% से घटाकर 18% कर दिया है। ट्रैक्‍टर निर्माण के लिए जरूरी कंपोनेंट्स पर पहले 5 से 17% तक टैक्स लगता था, जिसे शुरू में जीएसटी काउंसिल ने 18 से 28% कर दिया था। इस पर किसानों की चिंता थी कि उन्हें ट्रैक्टर खरीदने पर ज्यादा कीमत चुकानी होगी। अब जीएसटी काउंसिल ने ट्रैक्टर के कल-पुर्जों पर जीएसटी के तहत 18% टैक्स फाइनल किया है।
  • बता दें कि भारत में हर साल करीब 6.5 लाख ट्रैक्‍टर की बिक्री होती है। इनमें सबसे ज्‍यादा बिक्री काम्‍पैक्‍ट ट्रैक्‍टर (14 से 42 एचपी) की होती है, जिनकी कीमत करीब 2.5 लाख रुपए से लेकर 5.5 लाख रुपए के बीच है।

GST Updates in Hindi 18th June 2017 (18-06-2017)

जीएसटी काउंसिल की 17वीं मीटिंग में सरकारी और प्राइवेट लॉटरी पर अलग-अलग टैक्स रेट तय किए गए हैं। स्टेट रन लॉटरी पर जीएसटी के तहत 18% टैक्स और गवर्नमेंट ऑथराइज्ड प्राइवेट लॉटरी पर 28% टैक्स रेट तय किया गया है। इसके अलावा महंगे होटल रूम्स पर भी 28% टैक्स लगेगा। अरुण जेटली ने कहा कि ई-वे बिल पर तैयारी के लिए 4-5 महीने लग जाएंगे। जीएसटी काउंसिल की अगली मीटिंग 30 जून को रखी गई है। रिटर्न भरने के लिए 2 महीनों की राहत…

  • मीटिंग में मुनाफाखोरी रोकने के लिए एंटी प्रॉफिटियरिंग नियमों को मंजूरी दे दी गई।
  • जीएसटी काउंसिल ने हर माह रिटर्न फाइल करने में फिलहाल दो महीने की छूट दी है। अभी जुलाई और अगस्‍त में रिटर्न फाइल करने की जरूरत नहीं होगी। सितम्‍बर से हर माह रिटर्न फाइल करना जरूरी होगा।

सस्ते होटल रूम पर 18% टैक्स

  • 7500 रुपए से ज्यादा महंगे होटल कमरों पर 28% टैक्स लगेगा।, जबकि 2500 रुपए से 7500 रुपए तक की रेंज में आने वाले होटल के कमरों पर 18 फीसदी टैक्स रखा गया है। शिपिंग पर इनपुट क्रेडिट के साथ 5% आईजीएसटी वसूला जाएगा। निगेटिव लिस्‍ट ऑफ कंपोजिट में 3 प्रोडक्‍ट्स रखे गए हैं। इसमें आइसक्रीम, पान मसाला और टोबैको शामिल है।

GST Latest Updates in Hindi 11th June 2017

GST काउंसिल ने 66 प्रोडक्‍ट्स पर रेट घटाए, इंसुलिन, फूड आइटम्‍स होगा सस्‍ता (11-06-2017)

जीएसटी काउंसिल की रविवार को हुई बैठक में 66 प्रोडक्‍ट्स के रेट घटा दिए हैं। फाइनेंस मिनिस्‍टर अरुण जेटली ने काउंसिल की मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बताया कि 133 सामानों के जीएसटी रेट्स पर रिव्‍यू करने का प्रस्‍ताव मिला था। इसमें से 66 सामानों के रेट घटा दिए गए हैं। इसमें इंसुलिन पर टैक्‍स रेट 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया गया है। टोमैटो कैचअप, पैक्‍ड फूड्स और मसाले समेत कई प्रोडक्‍टस के रेट कम कर दिए गए हैं। वहीं, 75 लाख तक के सालाना टर्नओवर वाले कारोबारियों को जीएसटी के दायरे से छूट दी गई है। पहले यह सीमा 50 लाख रुपए सालाना टर्नओवर तक थी।

  • फाइनेंस मिनिस्‍ट अरुण जेटली ने बताया कि काउंसिल ने आज कई सामानों पर टैक्‍स रेट कम करने का फैसला किया है। इससे आम आदमी के लिए कई सामान सस्‍ते हो जाएंगे। लेकिन, इसका सरकार के रेवेन्‍यू पर असर होगा।
  • जेटली ने बताया, ‘‘जीएसटी काउंसिल ने कंपोजिशन की लिमिट 75 लाख कर दी गई है। यानी, 50 लाख की बजाय अब 75 लाख के टर्नओवर वाला बिजनेस जीएसटी के दायरे से बाहर हो जाएगा। इसके तीन तरह के कारोबारियों को फायदा होगा।’’
  •  उन्‍होंने कहा, ‘‘ट्रेडर एक फीसदी टैक्‍स देगा। वहीं, मैन्‍युफैक्‍चरर पर 2 फीसदी और होटल कारोबारियों पर 5 फीसदी टैक्‍स देकर जीएसटी के दायरे से बाहर रह सकते हैं।’’ 

इन चीजों पर टैक्‍स घटा-  

  • इंसुलिन पर 12% से घटाकर 5%
  • स्‍कूल बैग्‍स पर 28% से घटाकर 18%
  • एक्‍सरसाइज बुक्‍स पर 18% से घटाकर 12%
  • कंप्‍यूटर प्रिंटर 28% से घटाकर 18%
  • अगरबत्‍ती पर 12% से घटाकर 5%
  • काजू पर 12% घटाकर 5%
  •  डेंटल वैक्‍स पर 28% से घटाकर 8%
  • प्‍लास्टिक बेडस्‍ पर 28% से घटाकर 18%
  • प्‍लास्टिक टर्पोलिन पर 28% से घटाकर 18%
  • कलरिंग बुक्‍स पर 12% से घटकर 0
  • प्री-कॉस्‍ट कंक्रीट पाइप्‍स पर 28% से घटाकर 18%
  • कल्‍टरी पर 18% से घटकर 12%
  • ट्रैक्‍टर कंपोनेंट्स पर 28% से घटाकर 18%

फाइनेंस मिनिस्‍टर अरुण जेटली ने बताया कि सिनेमा पर जीएसटी रेट को दो कैटेगरी में रखा गया है। नए रेट्स के अनुसार, 100 रुपए से ज्‍यादा के मूवी टिकट पर 28 फीसदी और 100 रुपए तक के टिकट पर 18 फीसदी टैक्‍स लगेगा।

 जेटली ने कहा, ‘‘अभी इंटरटेनमेंट टैक्‍स अलग-अलग राज्‍य अपना-अपना वसूलते हैं। जिनके रेट अलग-अलग हैं, जो 28 से 110 फीसदी के बीच है। पूरे देश में एवरेट इंटरनेटमेंट टैक्‍स करीब 30 फीसदी है।’’

GST Rates in Hindi as Discussed on 03-06-2017 (3rd June 2017)

जीएसटी काउंसिल ने शनिवार को गोल्ड, बिस्किट, बीड़ी, टेक्सटाइल्स, फुटवियर और एग्रीकल्चर मशीन पर टैक्स स्लैब तय कर दिए। मीटिंग के बाद अरुण जेटली ने बताया कि गोल्ड पर 3% टैक्स लगेगा। आज जिन चीजों के रेट तय किए गए, उनमें बीड़ी पर सबसे ज्यादा 28% टैक्स रखा गया है। इसके अलावा 500 रुपए से कम के फुटवियर पर 5% टैक्स लगेगा। सभी राज्य 1 जुलाई से जीएसटी लागू करने पर राजी हो गए हैं। जीएसटी काउंसिल की पिछली मीटिंग भी श्रीनगर में ही हुई थी। उसमें 1200 से ज्‍यादा गुड्स और 500 से ज्यादा सर्विसेज पर टैक्‍स रेट तय हुआ था। जानिए किस पर, कितना टैक्स..

Highlights

  • इस पर अभी 2% से 2.5% टैक्स लगता है। जीएसटी के तहत गोल्ड पर 3% टैक्स लगाया जाएगा।
  • टेक्सटाइल्स – कॉटन फैब्रिक/यार्न:जीएसटी के तहत 5% टैक्स लगाया जाएगा। अभी इस पर 0% टैक्स लगता है।
  • रेडीमेड गारमेंट: इस पर 12% टैक्स लगाया जाएगा। लेकिन, 1000 रुपए से कम के गारमेंट पर 5% जीएसटी लगाया जाएगा।

1) गोल्ड

  • अभी कितना टैक्स:अभी 10% कस्टम ड्यूटी। मैन्युफैक्चरिंग पर 1% एक्साइज। बिक्री पर 1% वैट लगता है। केरल में वैट 5% है। रफ डायमंड पर 0.25% टैक्स लगेगा।
  • जीएसटी के बाद:3% टैक्स।

2) टेक्सटाइल

  • अभी कितना टैक्स: कॉटन फाइबर और फैब्रिक पर 0% तो सिंथेटिक पर 12.5% एक्साइज है। 1,000 रु. से कम के कपड़े पर एक्साइज नहीं लगता। इससे ज्यादा पर 12.5% एक्साइज और 5% वैट है। ब्रांडेड कपड़े पर सेनवैट के साथ 12.5% टैक्स है। कॉटन पर यह 6% है।
  • जीएसटी के बाद: सिल्क और जूट पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। कॉटन और नेचुरल फाइबर पर 5% टैक्स लगेगा। 1000 रुपए से कम के गारमेंट पर 5% और रेडीमेड गारमेंट पर 12% टैक्स लगेगा। मैनमेड यार्न और फैब्रिक पर 18% टैक्स लगेगा।

3) बिस्किट

  • अभी कितना टैक्स: 100 रुपए/किलो से कम दाम वाले बिस्किट पर एक्साइज नहीं लगता, वैट 4.5% से 14.5% तक है। ज्यादा कीमत वाले बिस्किट पर 6% एक्साइज, वैट 6-14.5% तक है। ओवरऑल ये 12% से 20.5% तक रहता है।
  • जीएसटी के बाद: सभी तरह के बिस्किट पर 18% टैक्स।

4) बीड़ी-तेंदूपत्ता

  • अभी कितना टैक्स: अभी इस पर 20% टैक्स लगता है।
  • जीएसटी के बाद: बीड़ी के पत्ते पर 18% टैक्स। बीड़ी पर 28% टैक्स लगेगा, लेकिन कोई सेस नहीं लगेगा।

5) फुटवियर

  • अभी कितना टैक्स:फिलहाल 500 से 1000 रुपए तक की कीमत वाले फुटवियर पर 6% टैक्स लगता है। इसके अलावा राज्य वैट भी लगाते हैं।
  • जीएसटी के बाद:500 रुपए तक 5% टैक्स लगेगा। 500 रुपए से ज्यादा कीमत वाले फुटवियर पर 18% होगा।

6) एग्रीकल्चर मशीनें

  • एग्रीकल्चर मशीनों पर 5% जीएसटी लगाया जाएगा।
  • इसके अलावा सोलर पैनल पर 5% टैक्स लगेगा। इसके अलावा पैकेज्ड फूड आइटम पर 5% टैक्स तय किया गया है।

काउंसिल ने शनिवार को ट्रांजिशन प्रोविजंस और रिटर्न सहित बाकी नियमों को मंजूरी दे दी है। जेटली ने बताया कि सभी राज्य 1 जुलाई से जीएसटी लागू करने को राजी हो गए हैं। उन्होंने कहा कि जीएसटी काउंसिल की अगली मीटिंग 11 जून को होगी।

Keep visit to our site for more latest updates…..

कारोबार में ब्लैकमनी पर कैसे लगाम लगाएगा GST?

GST Rates on Services in Hindi

0% GST Rate Services – नॉन-एसी ट्रेन टिकट, मेट्रो, बस, ऑटो, शिक्षा, स्वास्थ्य, धार्मिक और चैरिटेबल सेवाएं, टोल, बिजली, रिहायशी घर का किराया, पीएफआरडीए, ईपीएफओ और ईएसआईसी की सेवाएं, म्यूजियम, नेशनल पार्क में एंट्री, जनधन और अटल पेंशन जैसी सरकारी योजनाएं, 1,000 रुपए तक किराये वाले होटल, दूध, नमक, आटा, दाल, चावल जैसी चीजों की ढुलाई।

5% GST Rate Services – ट्रेन या ट्रक से माल ढुलाई, एसी ट्रेन टिकट, कैब सेवा, विमान का इकोनॉमी क्लास का टिकट, टूर ऑपरेटर सर्विसेज, विमान की लीजिंग, प्रिंट मीडिया में एडवर्टाइजिंग।

12% GST Rate Services – रेलवे कंटेनर से सामान ढुलाई, विमान का बिजनेस क्लास का टिकट, नॉन-एसी रेस्तरां में खाना, रोजाना 1000-2500 रुपए किराये वाला होटल, कॉम्प्लेक्स या बिल्डिंग का कंस्ट्रक्शन, पेटेंट अधिकार का अस्थायी ट्रांसफर।

18% GST Rate Services – फोन बिल, बैंकिंग, बीमा और अन्य फाइनेंशियल सर्विसेज, एसी और शराब लाइसेंस वाले रेस्तरां, आउटडोर कैटरिंग में खाने की सप्लाई, रोजाना 2500-5000 रु. किराए वाले होटल, सर्कस, क्लासिकल और फोक डांस, थियेटर और ड्रामा के 250 रु. से ज्यादा के टिकट, वर्क्स कॉन्ट्रैक्ट की कंपोजिट सप्लाई।

28% GST Rate Services – सिनेमा टिकट,थीम पार्क, वाटर पार्क, मेरी-गो-राउंड, गोकार्टिंग, कैसिनो, रेसकोर्स, बैले, आईपीएल जैसे स्पोर्ट्स इवेंट, फाइव स्टार या इससे अधिक रेटिंग वाले होटल के रेस्तरां, रोजाना 5,000 रुपए से अधिक रूम रेंट वाले होटल, गैंबलिंग।

इन प्रोडक्ट्स पर 28% टैक्स के साथ सेस भी लगेंगे

  • पेट्रोल: 4 मीटर से कम लंबी, 1200 सीसी से कम इंजन, कैपेसिटी- 1%, सेस कुल टैक्स 29%।
  • डीजल: 4 मीटर से कम लंबी, 1500 सीसी से कम इंजन, कैपेसिटी- 3%, सेस कुल टैक्स 31%।
  • अन्य सभी कार और एसयूवी: 15% सेस, कुल टैक्स 43%।
  • मोटरसाइकिल 350 सीसी से ज्यादा कैपेसिटी वाली: 3% सेस, कुल टैक्स 31%।
  • प्राइवेट प्लेन और याट: 3% सेस, कुल टैक्स 31%।
  • कोल्ड ड्रिंक्स, लेमोनेड: 12% सेस, कुल टैक्स 40%।
  • बिना तंबाकू के पान मसाले: 60% सेस, कुल टैक्स 88%।
  • तंबाकू वाला गुटखा: 204% सेस. कुल टैक्स 232%।
  • अन्य तंबाकू प्रोडक्ट्स: 61-160% सेस, कुल टैक्स 89-188%

GST Rates on Goods in Hindi

0% GST Rates Items – गेहूं, चावल, दूसरे अनाज, आटा, मैदा, बेसन, चूड़ा, मूड़ी (मुरमुरे), खोई, ब्रेड, गुड़, दूध, दही, लस्सी, खुला पनीर, अंडे, मीट-मछली, शहद, ताजी फल-सब्जियां, प्रसाद, नमक, सेंधा/काला नमक, कुमकुम, बिंदी, सिंदूर, चूड़ियां, पान के पत्ते, गर्भनिरोधक, स्टांप पेपर, कोर्ट के कागजात, डाक विभाग के पोस्टकार्ड/लिफाफे, किताबें, स्लेट-पेंसिल, चॉक, समाचार पत्र-पत्रिकाएं, मैप, एटलस, ग्लोब, हैंडलूम, मिट्टी के बर्तन, खेती में इस्तेमाल होने वाले औजार, बीज, बिना ब्रांड के ऑर्गेनिक खाद, सभी तरह के गर्भनिरोधक, ब्लड, सुनने की मशीन।

5% GST Rates Items – ब्रांडेड अनाज, ब्रांडेड आटा, ब्रांडेड शहद, चीनी, चाय, कॉफी, मिठाइयां, खाद्य तेल, स्किम्ड मिल्क पाउडर, बच्चों के मिल्क फूड, रस्क, पिज्जा ब्रेड, टोस्ट ब्रेड, पेस्ट्री मिक्स, प्रोसेस्ड/फ्रोजन फल-सब्जियां, पैकिंग वाला पनीर, ड्राई फिश, न्यूजप्रिंट, ब्रोशर, लीफलेट, राशन का केरोसिन, रसोई गैस, झाडू, क्रीम, मसाले, जूस, साबूदाना, जड़ी-बूटी, लौंग, दालचीनी, जायफल, जीवन रक्षक दवाएं, स्टेंट, ब्लड वैक्सीन, हेपेटाइटिस डायग्नोसिस किट, ड्रग फॉर्मूलेशन, क्रच, व्हीलचेयर, ट्रायसाइकिल, लाइफबोट, हैंडपंप और उसके पार्ट्स, सोलर वाटर हीटर, रिन्यूएबल एनर्जी डिवाइस, ईंट, मिट्टी के टाइल्स, साइकिल-रिक्शा के टायर, कोयला, लिग्नाइट, कोक, कोल गैस, सभी ओर (अयस्क) और कंसेंट्रेट, राशन का केरोसिन, रसोई गैस।

12% GST Rates Items – नमकीन, भुजिया, बटर ऑयल, घी, मोबाइल फोन, ड्राई फ्रूट, फ्रूट और वेजिटेबल जूस, सोया मिल्क जूस और दूध युक्त ड्रिंक्स, प्रोसेस्ड/फ्रोजन मीट-मछली, अगरबत्ती, कैंडल, आयुर्वेदिक-यूनानी-सिद्धा-होम्यो दवाएं, गॉज, बैंडेज, प्लास्टर, ऑर्थोपेडिक उपकरण, टूथ पाउडर, सिलाई मशीन और इसकी सुई, बायो गैस, एक्सरसाइज बुक, क्राफ्ट पेपर, पेपर बॉक्स, बच्चों की ड्रॉइंग और कलर बुक, प्रिंटेड कार्ड, चश्मे का लेंस, पेंसिल शार्पनर, छुरी, कॉयर मैट्रेस, एलईडी लाइट, किचन और टॉयलेट के सेरेमिक आइटम, स्टील, तांबे और एल्यूमीनियम के बर्तन, इलेक्ट्रिक वाहन, साइकिल और पार्ट्स, खेल के सामान, खिलौने वाली साइकिल, कार और स्कूटर, आर्ट वर्क, मार्बल/ग्रेनाइट ब्लॉक, छाता, वाकिंग स्टिक, फ्लाईएश की ईंटें, कंघी, पेंसिल, क्रेयॉन।

18% GST Rates Items – हेयर ऑयल, साबुन, टूथपेस्ट, कॉर्न फ्लेक्स, पेस्ट्री, केक, जैम-जेली, आइसक्रीम, इंस्टैंट फूड, शुगर कन्फेक्शनरी, फूड मिक्स, सॉफ्ट ड्रिंक्स कंसेंट्रेट, डायबेटिक फूड, निकोटिन गम, मिनरल वॉटर, हेयर ऑयल, साबुन, टूथपेस्ट, कॉयर मैट्रेस, कॉटन पिलो, रजिस्टर, अकाउंट बुक, नोटबुक, इरेजर, फाउंटेन पेन, नैपकिन, टिश्यू पेपर, टॉयलेट पेपर, कैमरा, स्पीकर, प्लास्टिक प्रोडक्ट, हेलमेट, कैन, पाइप, शीट, कीटनाशक, रिफ्रैक्टरी सीमेंट, बायोडीजल, प्लास्टिक के ट्यूब, पाइप और घरेलू सामान, सेरेमिक-पोर्सिलेन-चाइना से बनी घरेलू चीजें, कांच की बोतल-जार-बर्तन, स्टील के ट-बार-एंगल-ट्यूब-पाइप-नट-बोल्ट, एलपीजी स्टोव, इलेक्ट्रिक मोटर और जेनरेटर, ऑप्टिकल फाइबर, चश्मे का फ्रेम, गॉगल्स, विकलांगों की कार।

28% GST Rates Items – कस्टर्ड पाउडर, इंस्टैंट कॉफी, चॉकलेट, परफ्यूम, शैंपू, ब्यूटी या मेकअप के सामान, डियोड्रेंट, हेयर डाइ/क्रीम, पाउडर, स्किन केयर प्रोडक्ट, सनस्क्रीन लोशन, मैनिक्योर/पैडीक्योर प्रोडक्ट, शेविंग क्रीम, रेजर, आफ्टरशेव, लिक्विड सोप, डिटरजेंट, एल्युमीनियम फ्वायल, टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन, वैक्यूम क्लीनर, डिश वाशर, इलेक्ट्रिक हीटर, इलेक्ट्रिक हॉट प्लेट, प्रिंटर, फोटो कॉपी और फैक्स मशीन, लेदर प्रोडक्ट, विग, घड़ियां, वीडियो गेम कंसोल, सीमेंट, पेंट-वार्निश, पुट्टी, प्लाई बोर्ड, मार्बल/ग्रेनाइट (ब्लॉक नहीं), प्लास्टर, माइका, स्टील पाइप, टाइल्स और सेरामिक्स प्रोडक्ट, प्लास्टिक की फ्लोर कवरिंग और बाथ फिटिंग्स, कार-बस-ट्रक के ट्यूब-टायर, लैंप, लाइट फिटिंग्स, एल्युमिनियम के डोर-विंडो फ्रेम, इनसुलेटेड वायर-केबल।

GST Council Meeting Updates in Hindi

किन्हें कम टैक्स स्लैब में रखा गया?

रेलवे, एयर और ट्रांसपोर्ट को 5% के सबसे कम स्लैब में रखा गया है क्योंकि ये पेट्रोलियम इंडस्ट्री पर निर्भर हैं। पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स को GST से बाहर रखा गया है।

New Updates

  • सोना, सिगरेट, बीड़ी, टेक्सटाइल, फुटवियर और बायो डीजल जैसे 6 गुड्स एंड सर्विसेस के टैक्स रेट तय नहीं हो पाए हैं। इसके लिए 3 जून को दिल्ली में फिर मीटिंग होगी। नए टैक्स रेट 1 जुलाई से लागू हो जाएंगे।
  • AC रेल टिकट पर 5%, रेस्टोरेंट में 17% तक टैक्स
  • ट्रक ट्रांसपोर्ट पर अभी 70% अबेटमेंट है। यानी 30% हिस्से पर 15% टैक्स लगता है। यह बिल का 4.5% ही होता है। GST में 5% टैक्स कम रखा गया है, क्योंकि इसका मेन इनपुट पेट्रोल-डीजल जीएसटी से बाहर है। इसलिए इनपुट टैक्स क्रेडिट नहीं मिलेगा।
  • मेट्रो, लोकल ट्रेन, रिलिजियस और हज यात्राओं पर अभी टैक्स नहीं है। नॉन-एसी ट्रेन के टिकट पर भी कोई टैक्स नहीं लगता है। एसी ट्रेन टिकट पर टैक्स नहीं। GST में भी मेट्रो, लोकल ट्रेन, धार्मिक यात्राओं, नॉन-एसी ट्रेन के टिकट पर टैक्स नहीं होगा। एसी ट्रेन टिकट पर 5% टैक्स।

1# टेलिकॉम सर्विसेज पर टैक्स बढ़ा

टेलिकॉम सर्विसेज पर 12 फीसदी रेट तय किया गया। अभी इस पर सर्विस टैक्स 15 फीसदी है। इससे साफ है कि जीएसटी में टेलिकॉम सर्विसेज सस्ती हो जाएंगी।

2# 18% के टैक्स स्लैब में ब्रांडेड गारमेंट

केरल के वित्‍त मंत्री थॉमस इसाक के मुताबिक, “हेल्‍थकेयर और एजुकेशन सर्विसेज को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। ब्रांडेड गारमेंट पर जीएसटी की दर 18 फीसदी तय की गई है।

3# फाइनेंशियल सर्विसेस पर 3% टैक्स बढ़ा

अभी तक बैंकिंग, इन्श्योरेंस समेत फाइनेंशियल सर्विसेज पर 15 फीसदी सर्विस टैक्स था। GST में टैक्स रेट 18 फीसदी होने से ये सर्विसेज महंगी हो जाएंगी।

5#सस्‍ते होटल जीएसटी के दायरे से बाहर

  • प्रति कमरा 1 हजार रुपए से कम किराये वाले होटलों को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है।
  • 1 हजार रुपए से 2500 रुपए के कमरे वाले होटलों पर 12 फीसदी टैक्स रेट लागू होगा।
  • 2500 रुपए से 5 हजार रुपए के कमरे वाले होटलों पर 18 फीसदी की दर से टैक्स रेट लगेगा।
  • वहीं 5 हजार रुपए से ज्‍यादा किराये वाले होटलों पर 24 फीसदी टैक्स रेट लगेगा।
  • फाइव स्‍टार होटलों पर 28 फीसदी रेट लागू होगा।
  • नॉन AC पर 12% और AC, लिकर लाइसेंस वालों पर 18 सर्विस टैक्स लगेगा।
  • 50 लाख या उससे कम सालाना टर्नओवर वाले छोटे रेस्टोरेंट्स की सर्विसेस पर 5% टैक्स लगेगा।

रेस्टोरेंट या होटल में खाना कितना महंगा?

फूड बिल के 40% हिस्से पर 15% टैक्स लगता है। पूरे बिल के हिसाब से जोड़ेंगे तो यह 6% होता है। अभी वैट पूरे बिल पर 5% लगता है। दोनों को जोड़कर खाने पर कुल टैक्स 11% लगता है। जीएसटी में इसे तीन हिस्सों में बांटा गया है।

  1. नॉन-एसी रेस्टोरेंट: फूड बिल पर 12% टैक्स लगेगा। यानी 1% ज्यादा।
  2. शराब लाइसेंस और एसी वाले रेस्टोरेंट: 18% टैक्स। यानी 7% ज्यादा।
  3. लग्जरी रेस्टोरेंट:28% टैक्स रेट लागू होगा। यानी 17% ज्यादा।

ऐप से कैब बुक कराने पर कितना टैक्स?

जीएसटी के तहत कैब एग्रीगेटर्स पर 5% की दर से टैक्स लिया जाएगा।

6#ट्रांसपोर्ट सर्विसेज पर

कुछ ट्रांसपोर्ट सर्विसेज के लिए टैक्स रेट 5 फीसदी तय की गई है।

7# सिनेमा हॉल पर 28 फीसदी टैक्स

जीएसटी के तहत सिनेमा हॉल पर 28 फीसदी सर्विस टैक्स लगेगा।

8# गैंबलिंग पर लगेगा 28 फीसदी टैक्स

गैंबलिंग, रेसकोर्स और बेटिंग को 28 फीसदी टैक्स के दायरे में रखा गया है।

GST Rate Details in Hindi

18-05-2017: श्रीनगर में शुरू हुई गुड्स एंड सर्विसेस टैक्‍स काउंसिल की मीटिंग में करीब 80 से 90 फीसदी आइटम्स पर जीएसटी की दरों पर रजामंदी बन गई है। इनमें से करीब 81 फीसदी आइटमों पर 18 फीसदी से कम जीएसटी की दर लागू होगी। अनाज और दूध को जीएसटी दायरे से बाहर रखा गया है।

एक जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद सबसे ज्यादा सेस 204% पान मसाला, गुटखा पर लिया जाएगा। इसके अलावा कोल्ड ड्रिंक्स पर 12% और बड़ी कारों पर 15% तक सेस लगेगा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here